Home » Horoscope » स्वप्नों का फल – चढ़ाई पर चढ़ना

स्वप्नों का फल – चढ़ाई पर चढ़ना

यदि स्वप्न में पहाड़ या पर्वत की चोटी दिखाई दे | बिल्डिंग या सीडियां या फिर कोई ऐसी जगह जहाँ आप चढ़कर जाना चाहते हों तो इसका अर्थ है कि आपको भविष्य में जल्द ही कोई अवसर मिलने वाला है | यदि स्वप्न में आप चढ़ाई पर चढ़ते हैं तो निस्संदेह आप जल्द ही किसी काम में सफलता प्राप्त करने वाले हैं |

ऐसे स्वप्न हमें तब आते हैं जब कुंडली के नवम भाव का सम्बन्ध ग्यारहवें भाव से होता है | दशा अन्तर्दशा या गोचर में यदि ऐसे योग बने तो किसी तरह के पूर्वाभास से हमें यह जानकारी अवश्य मिलती है की जल्द ही कुछ अच्छा होने वाला है |

मेरे विचार में पूर्वाभास सभी को होता है | किसी को कम किसी को ज्यादा परन्तु होता सभी को है | आवश्यकता है तो केवल इसे समझने की |

कुंडली के चार स्थान पूर्वाभास या छठी इंद्री का इशारा देता हैं | तीसरा स्थान शत्रु की चाल को समझने और उसे मात देने की शक्ति देता है | छठा स्थान खतरे की घंटी है तो आठवाँ स्थान गूढ़ विद्या और तंत्र मन्त्र द्वारा भविष्य दर्शन करवाता है | बारहवां भाव स्वप्न द्वारा या बैठे बैठे अनुमान लगाने की शक्ति देता है कि निकट भविष्य में क्या होने वाला है |

इस पर शोध जारी है | हमारे इस शोध में भाग लेने के लिए अपने विचार अवश्य प्रकट करें |